वाटर पार्क में मौत से पहले आखिरी सेल्फी, :शाम को अजमेर घूमने जाना था, पूल में दोस्तों-परिवार संग मस्ती करते आ गई मौत

वाटर पार्क में मौत से पहले आखिरी सेल्फी, :शाम को अजमेर घूमने जाना था, पूल में दोस्तों-परिवार संग मस्ती करते आ गई मौत

अजमेर के बिड़ला वाटर सिटी पार्क में दर्दनाक हादसे से पहले युवक की पूल में दोस्तों-परिवार के साथ मस्ती करते फोटो-वीडियो सामने आए हैं। यह हादसे के शिकार हुए महबूब की ओर से ही बनाए गए थे। वीडियो में वह सेल्फी लेते दिख रहा है। यह वीडियो 30 मई की शाम करीब साढे़ चार बजे शूट किया गया।

इसके करीब आधे घंटे बाद ही तेज गति से स्लाइडर से आए एक युवक ने महबूब के पेट पर टक्कर मार दी थी। इस दौरान उसका परिवार भी वहीं मौजूद था। सुरक्षा गार्ड ने महबूब को प्राथमिक उपचार मुहैया कराया फिर उसे हॉस्पिटल ले जाया गया। बाद में तीन जून को महबूब की मौत हो गई। वह 30 मई की शाम को अजमेर घूमने जाने वाला था।

दरगाह जियारत कर पहुंचे थे पार्क

मृतक महबूब अपनी पत्नी शबाना, बेटे शमीर, बेटी शालु, दोस्त नरेश्र आहूजा, उसकी पत्नी दीपा, उसके बेटे रेयांश, बेटी त्रिशा व अन्य दोस्त शेख जियादुल के साथ 30 मई को सुबह नौ बजे रायपुर से रवाना होकर सीधे बारह बजे करीब दरगाह पहुंचे। जियारत करने के बाद करीब डेढ़-दो बजे बिरला वाटर सिटी पार्क पहुंचे। वहां पूल में दोस्तों व परिवार के साथ एन्जॉय किया। इसी बीच झकझोर देने वाला हादसा हो गया।

घर-परिवार की पूरी जिम्मेदारी थी महबूब पर

महबूब के दोस्त नरेश आहूजा ने बताया कि शाम को पूल से फ्री होकर अजमेर में घूमने और देर रात घर लौटने का प्रोग्राम था। महबूब के पिता व बहन के पति का पहले ही देहान्त हो चुका है। मां और बहन के साथ पत्नी व बच्चों की जिम्मेदारी भी उस पर ही थी। पार्क प्रबंधन की लापरवाही से ही यह हादसा हुआ। मृतक के आश्रितों काे मुआवजा मिलना चाहिए।

पूल में आनंद लेता महबूब।

30 मई को हुआ हादसा, 3 जून को मौत

रिश्तेदार शेख जियादुल ने पुलिस में रिपोर्ट दी थी। इसमें बताया गया कि 30 मई को महबूब खान (44) और परिवार के लोग अजमेर आए थे। दोपहर 2 बजे के करीब हम सभी बिड़ला वाटर सिटी पार्क गए थे। 5 बजे करीब ऊपर से आ रहे पाइप में तेज गति से एक युवक आया और पूल में खड़े महबूब से टकराया। इस पर महबूब वहीं गिर गया। जोर-जोर से चिल्लाने लगा और वो उठ नहीं पा रहा था। हॉस्पिटल में सब कुछ ठीक बताने पर उसे घर ले आए थे, लेकिन दूसरे दिन तकलीफ हुई तो फिर हॉस्पिटल लाए। जांच हुई तो निकला कि आंत डैमेज है और ऑपरेशन करना पड़ा। इलाज चल रहा था कि इस बीच 3 जून को उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने जारी किया नोटिस

आदर्श नगर थाने के एएसआई हरभानसिंह ने बताया कि पीड़ित के दोस्तों व परिजन के साथ मौका मुआयना किया। यहां सीसीटीवी देखे और हादसा बिरला वाटर सिटी पार्क में होने की पुष्टि हुई। इस पर मालिक को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। उधर, मृतक के परिजन भी पुलिस के साथ वाटर पार्क पहुंचे और विरोध जताया। इस दौरान उन्होंने मृतक के आश्रित परिजन को मुआवजा देने की मांग भी की।